Hindi

दीप सिद्धु की फिल्म 'साडे आले' कांस फिल्म फेस्टिवल 2018 में स्क्रीन की जाएगी

May 17, 2018 10:02 AM
General

दीप सिद्धु की फिल्म 'साडे आले' कांस फिल्म फेस्टिवल 2018  में स्क्रीन की जाएगी
चंडीगढ़ 17 मई 2018 पिछले साल सतिंदर सरताज की फिल्म 'दि ब्लैक प्रिंस' का ऑफिशल ट्रेलर कांस में रिलीज़ हुआ था। इस बार पंजाबी फिल्म जो पूरी पंजाबी एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को सब से बड़े फिल्म मेले कांस 2018 में प्रस्तुत की जाएगी वो है 'ज़ोरा 10 नंबरिआ' से प्रसिदी प्रापित दीप सिद्धु की फिल्म 'साडे आले'।
फिल्म की पृष्ठ भूमि पंजाब के पेंडू ज़िन्दगी पर आधारित है। 'साडे आले' जिसका हिंदी मतलब है अपने।  यह कहने है इंसानी रिश्तों, भावनाओं, प्यार, नफरत, ख़ुशी और जश्न की।पेंडू खेलों का संस्कृति इस फिल्म की कहानी का मुख्य हिस्सा है।
साडे आले की कहानी मंजीत और बिक्कर दो लोगों के इर्द गिर्द घूमती है जो एक ही गांव से हैं और एक ही टीम से कब्बडी खेलते हैं।  मंजीत एक रेडर है और बिक्कर एक डिफेंडर है। इनके परिवार  में शुरू से ही दुश्मनी होती है और यहीं से आगे की कहानी शुरू होती है।
अपनी ख़ुशी जाहिर करते हुए दीप सिद्धु ने कहा, "मुझे लगता है कि मैं बहुत ही ज्यादा खुशकिस्मत हूँ जो मेरी फिल्म कांस फिल्म मेले 2018 के लिए चुनी गई है।यह पूरे पंजाब और पंजाबियों के लिए मान वाली बात है। वहां सारे हॉलीवुड और बॉलीवुड सितारों के साथ होना एक अविश्वसनीय अनुभव रहा। मैं उम्मीद करता हूँ कि जिस तरह यह शुरू हुआ है उसी तरह ही सारे दर्शकों को इम्प्रेस करेगी।"
यह फिल्म बठिंडे वाले बाई और कुकूनस फिल्म्स कि पेशकश है।इस फिल्म कि पहली झलक 16 मई 2018 को रिलीज़ होगी।यह सचमुच ही सारे पंजाबियों के लिए गर्व की बात है।

Have something to say? Post your comment

More Hindi News

अमृत पाल गोगिया जी की दूसरी काव्य पुस्तक "मन की आवाज़" तथा वीडियो "बलमा" का लोकार्पण
अमृतसर कांड में फगवाड़ा की बहु व बेटी के संस्कार पर पहुंचे विधायक सोम प्रकाश व मेयर खोसला
हत्या के दोनों मामलों में रामपाल दोषी करार, विशेष अदालत ने सुनाया फैसला
डेंगू की रोकथाम के प्रति प्रशासन सिर्फ फोटो खिंचवाने तक सीमित-शिव सेना (बाल ठाकरे)
डीईओ अमृतसर की ओर से आरज़ी एडजैस्टमैंट के खिलाफ एसएलएज़ ने की हंगामी बैठक
फ़ूड सेफ्टी एक्ट के नियमों पालना ना करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई : पन्नू ।
पहले प्रकाश पर्व के पवित्र मौके पर आइ.एफ.ए. के विद्यार्थियों ने आरंभ किए श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के सहज पाठ !
नगर कौंसल कर्मियों द्वारा नालों में लगाई गई रोक के चलते बरसात होते ही गलियां और बाजार में भरा पानी !
फ़र्ज़ी डॉक्टर भी निभा रहे है नशे की बिक्री में अहम भूमिका !
जंडियाला गुरु में धड़ल्ले से बिक रहा है बिन एक्सपायरी डेट के माल ,लोगों की सेहत के साथ हो रहा है खिलवाड़ ।
-
-
-